Child story in Hindi free download

By | March 24, 2019

Child story in Hindi free download

Child story in Hindi free download – एक समय की बात है एक शहर में एक बहुत अच्छा मकान हुआ करता था उस मकान का मालिक अक्सर विदेशों में रहता था जिसकी वजह से वह मकान अक्सर खाली रहता था एक बार उसने सोचा क्योना मै मकान को बेच दूं जिससे कि मुझे अच्छे खासे पैसे भी मिल जाए और किसी का सपना भी पूरा हो सके जो एक अच्छा मकान खरीदने की सोच रहा हो

क्योंकि मैं तो मकान में रह नहीं पाता अक्सर बाहर ही रहता हूं जिसकी वजह से उसकी देखरेख भी नहीं हो पाती और इसकी वजह से दिन प्रतिदिन मकान खराब होता जा रहा है यह सोच कर के उसने अपना मकान बेचने का निर्णय किया और उसने एक दंपति को अपना मकान बेच दिया वह दंपति उस घर में रहने के लिए आई जिनके पास एक बच्चा भी था जिसका नाम राजू था जब वह लोग उस घर में आए तो बहुत ही प्रसन्न हुए उस घर की बनावट और खूबसूरती को देख कर के लेकिन जल्द ही वह परेशान रहने लगे

क्योंकि उसमें एक आत्मा का वास था वह आए दिन सबको डराने लगी और और सब परेशान रहने लगे एक दिन उन लोगों ने मिलकर के मकान को बेचने का निर्णय किया और किसी और से मकान बेच करके वह कहीं और रहने के लिए चले गए दोबारा जो परिवार उस घर में रहने के लिए आया उसमें एक रितु नाम की लड़की थी जो कि अपने मां-बाप की एकलौता थी और सब एक साथ हंसी-खुशी से उस घर में रहने लगे नए घर को पाकर के सभी बहुत खुश थे

एक दिन रात में उसे कुछ अजीबोगरीब आवाज किचन से सुनाई दी जब वह किचन में गई तो वहां पर एक बहुत ही डरावनी लड़की खड़ी थी और वह उससे दोस्त बनने के लिए बोल रही थी इस पर ऋतू ने बोला कि मैं तुम्हारी दोस्त क्यों बनूं फिर भूतनी ने बोला क्योंकि मेरे कोई भी दोस्त नहीं है और मैं अकेला उदास रहती हूं जब मैं अकेला होती हूं तो मनोरंजन के लिए लोगों को डराने लगती हूं और परेशान करने लगती हूं अतः अगर तुम लोग हंसी खुशी से इस घर में रहना चाहते हो तो सबसे पहले तुम्हें मुझसे दोस्ती करनी पड़ेगी और मुझसे बातें करनी पड़ेगी जिससे कि मेरा भी दिल रह जाएगा और तुम लोग भी अच्छे खासे इस घर में रह पाओगे

उसकी इस बात को सुनकर के रितु ने उस भूतनी से दोस्ती कर लिया और दोनों बहुत सारी बातें किया करते थे एक बार रितु ने उस भूतनी से उसके भूत बनने का कारण पूछ लिया इस पर वह रोने लगी और भूतनी ने बताया कि जब वह छोटी थी तब बहुत सारे लड़के लुका छुपी खेल रहे थे और इस घर का मालिक अकसर बाहर रहा करता था जिसकी वजह से हम लोग इसमें आ कर छुप गए और मेरे दोस्तों ने इस किचन का दरवाजा बाहर से लगा दिया और मैं इसी में पड़े पड़े मर गई जिसकी वजह से मैं भूत बन गई

इस बात को सुनकर के रितु बहुत उदास हुई और उसने बोला क्या इसका कोई उपाय नहीं है जिससे तुम्हारी मुक्ति मिल सके तब भूतनी ने बोला उपाय तो है अगर अमावस्या के दिन इस किचन में मेरे नाम का हवन कराया जाए और मेरा श्राद्ध मनाया जाए तो

उसकी इस बात को सुनकर के रितु अपने मां से पूछा की मां अमावस्या कब है उसकी मां ने जवाब दिया कि अगले 5 दिन बाद अमावस्या है उसकी इस बात को सुनकर के  ऋतू ने अपनी मां को सारी बात बताई और उसकी मां भी तैयार हो गई और जब अमावस्या आया उस दिन उन्होंने उस भूतनी का श्राद्ध किया और हवन कराया उसके बाद से वह भूतनी कभी नहीं दिखी और सभी हंसी खुशी से रहने लगे

Moral (Child story in Hindi free download)

इस कहानी से हमें यह शिक्षा मिलती है कि हर भुत बुरे नहीं होते हैं कई बार उनके साथ बहुत बुरा हुआ रहता है जिसकी वजह से वह परेशान रहते हैं और दूसरों को भी परेशान किया करते हैं अतः किसी भी चीज को अगर प्यार से जीतने की कोशिश किया जाए तो जीता जा सकता है बिना किसी के बारे में जाने हमें किसी को बुरा या भला नहीं कहना चाहिए

हमने इस ” Child story in Hindi free download “कहानी के माध्यम से आप सभी को रोमांचित और हँसाने की कोशिश की है हम सब उमीद करते है की आप सभी को यह ” Child story in Hindi free download “कहानी अच्छी लगी होगी हमारी और नई कहानियाँ पढने के लिए बेल के आइकॉन पर क्लिक करके allow करके सब्सक्राइब कर ले जिससे हम जब भी नई कहानी पोस्ट करे तो सीधे आप सभी के पास पहुच सके

इन्हें भी एक बार जरुर पढ़े

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *